मगर वो मेरा न हुआ..

धागा भी दरख़्त पर बांध कर देखा….

.

.

.

सुख गया दरख़्त मगर वो मेरा न हुआ..

Like
Like Love Haha Wow Sad Angry

Leave a Reply