आजकल तो छोटे छोटे बच्चे भी गर्लफ्रेंड घुमा रहे हैं

आजकल तो छोटे छोटे बच्चे भी गर्लफ्रेंड घुमा रहे हैं . . . . . . . . . . . . . ये ब्रेकअप के बाद पीते क्या होगें…..??☝🏻🤔 *रसना*✋🏻😆 🤪😜🤪😜🤪😜🤪😜🤪😜🤪

नाराजगी

“नाराज़गी” भी एक खूबसूरत रिश्ता है, जिससे होती हैं वह व्यक्ति दिल और दिमाग, दोनों में रहता है

क्रोध किसको अधिक आता है

जो मन की पीड़ा को स्पष्ट रूप से नहीं कह सकता उसी को क्रोध अधिक आता है

कचरे में पड़ी रोटियां

कचरे में पड़ी रोटियाँ रोज यह कहती है की पेट भरते ही इंसान अपनी औकात भुल जाता हैं

बुरा समय

बुरा समय आपका जीवन के उन सत्यों से सामना करवाता है, जिनकी आपने अच्छे समय में कभी कल्पना भी नहीं की होती है

सुलझा हुआ इंसान

“सुलझा हुआ इंसान वह है जो अपने जीवन के निर्णय स्वयं लेता है, और उन निर्णयों के परिणाम के लिए के किसी दूसरें को दोष नहीं देता”

व्यक्तित्व

“व्यक्तित्व” की भी अपनी वाणी होती है जो “कलम”‘ या “जीभ” के इस्तेमाल के बिना भी, लोगों के “अंर्तमन” को छू जाती है..!!!

किसी से बस उतना ही दूर होना

किसी से बस उतना ही दूर होना की उसे आपकी अहमियत का एहसास हो जाए इतना भी दूर ना हो जाना की वो आप के बिना जीना सीख ले❗️

बड़ी दिल फरेब सी है तेरी ये अदा

बड़ी दिल फरेब सी है तेरी ये अदा ना चैन लेने दे, ना ही कोई सुकून दे

कोई ऐसा कर बहाना मेरी आस टूट जाए

तेरे वादों पे कहाँ तक मेरा दिल फ़रेब खाए कोई ऐसा कर बहाना मेरी आस टूट जाए ~फ़ना निज़ामी कानपुरी