जहा दूसरे को समझाना मुश्किल हो जाये

जहा दूसरे को समझाना मुश्किल हो जाये, . . . वहा खुद को समझा लेना बहतर होता है…..

थोडा इंतजार कर ए दिल

थोडा इंतजार कर ए दिल, . . . . उसे भी पता चल जाएगा की उसने खोया क्या है…

तभी तो ज़िंदा हूँ

पूछा किसीने की याद आती है उसकी, मैंने मुस्कुराकर कहा की तभी तो ज़िंदा हूँ !!

तेरी ख़ामोशी

कौन कहता है की दिल.. सिर्फ लफ्जों से दुखाया जाता है, तेरी ख़ामोशी भी कभी कभी.. आँखें नम कर देती है..

मैं उसे खुश देखने के लिए दूर हूँ

वो मुझसे दूर रहकर खुश है, और मैं उसे खुश देखने के लिए दूर हूँ…

बहुत बुरा हूँ मैं

सफाईयाँ देना छोड़ दिया है मैंने, सीधी सी बात… बहुत बुरा हूँ मैं……..!!

रिश्तों को कभी धोखा मत दो

रिश्तों को कभी धोखा मत दो, पसंद ना आऐ तो उसे पूर्णविराम कर दो

अजीब खेल है ये मोहब्बत का

अजीब खेल है ये मोहब्बत का . . किसी को हम न मिले, कोई हमें ना मिला!

साँसों का टूट जाना तो बहुत छोटी सी बात है

साँसों का टूट जाना तो बहुत छोटी सी बात है दोस्तो, जब अपने याद करना छोड़ दे, मौत तो उसे कहते है !!

न ज़ख्म भरे, न शराब सहारा हुई.

न ज़ख्म भरे, न शराब सहारा हुई., न वो वापस लौटीं, न मोहब्बत दोबारा हुई..