दिल से भी बहरा था

हम उसको सुनाते रहे गम की कहानियां। जो शख्स कान से ही नही दिल से भी बहरा था

कितनों की हीर है

समस्या ये भी गंभीर है . . . जिसे तूँ सिर्फ अपनी समझता है, वो पता नही कितनों की हीर है…

जो अधूरा मुझे छोड़ गया है

उसको मुकम्मल लिखना चाहती हूं . . . जो अधूरा मुझे छोड़ गया है..💔

फिर वही तुम

हुए बदनाम मगर फिर भी न सुधर पाए हम.. फिर वही शायरी.. फिर वही इश्क़ फिर वही तुम..😘

Jajbato Ki Raddi

जज्बातों की रद्दी है साहब, सही भाव तो लगा लो..!!! #बज़्म #शायरी

Haq

हक दिया था तुम्हें… हाथ पकड़ कर रोक लेने का मुझे… पर तुम्हारी खामोशी ने पल में पराया कर दिया…!!

Wo Bik Chuke The

वो बिक चुके थे जब खरीदने के काबिल हुए हम …… ज़माने गुजर गए … हमे अमीर होते होते……!!

Majboori

तेरे बाद हम जिसके होंगे उस रिश्ते का नाम मजबूरी होगा

Fikar

Na Jaane Ye Kaisi Mohabbat Hai Tujhase Baat Na Bhi Ho To Bhi Dil Ko Fikar Bas Teri Lagi Rahati Hai