दिल से भी बहरा था

हम उसको सुनाते रहे गम की कहानियां। जो शख्स कान से ही नही दिल से भी बहरा था

खैरियत पूछ के तो देखिये

” कौन कहता है हम झूठ नहीं बोलते, . . . . एक बार खैरियत पूछ के तो देखिये !! “

दफ़न सारे अहसास

सुनो, ये जो तुम रुठ के मुझसे हर बार चले जाते हो… दफ़न सारे अहसास बताओ कहां कर आते हो ?

जो अधूरा मुझे छोड़ गया है

उसको मुकम्मल लिखना चाहती हूं . . . जो अधूरा मुझे छोड़ गया है..💔

Haq

हक दिया था तुम्हें… हाथ पकड़ कर रोक लेने का मुझे… पर तुम्हारी खामोशी ने पल में पराया कर दिया…!!

Wo Bik Chuke The

वो बिक चुके थे जब खरीदने के काबिल हुए हम …… ज़माने गुजर गए … हमे अमीर होते होते……!!

Ignore

Bahut Dard Hota Hai Jab Aapko Wo Insan “Ignore” Kare Jisake Liye Aap Puri Duniya Ko “Ignore” Karte Ho

Kahani

कहानी हर किसी की होती है किसी की पूरी 💕💕 . . . किसी की अधूरी 💔💔

Unki Jab Marji Hoti Hai

उनकी जब मर्जी होती है वो हमसे तब बात करते है हमारा पागलपन तो देखिए पूरा दिन उनकी मर्जी के इंतजार करते है 😔😔