इतना सस्ता कभी नहीं रहा था मैं

इतना सस्ता कभी नहीं रहा था मैं ।।

.

.

.

.
वो तो उसी के लिये रियायत ज्यादा थी।।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *