तुम जलन से इतना भागती क्यों हो

तुम जलन से इतना भागती क्यों हो?

.

.

.

प्रेम है तो जलन भी होगी, जलन होना इंसान होने और प्रेम में होने, दोनों का सबूत है

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *