तीन ही तो शौक़ हैं मेरे

तीन ही तो शौक़ हैं मेरे… शाम की चाय, शायरी और तुम….! ☕😊 😊☕

मेरे ख्वाबों की तबियत ख़राब है

मेरे ख्वाबों की तबियत ख़राब है…💕 क्या मुझे दो घूँट नींद मिलेगी…💕😒

कुछ अजीब शख्सियत है हम दोनों की

कुछ अजीब शख्सियत है हम दोनों की… न वो #Ghazal में बयाँ होती हैं न हम #Status में।

बात वो कहिए कि जिस बात के सौ पहलू हों

बात वो कहिए कि जिस बात के सौ पहलू हों, कोई पहलू तो रहे बात बदलने के लिए।

थके लोगों को मजबूरी में चलते देख लेता हूँ

थके लोगों को मजबूरी में चलते देख लेता हूँ मैं बस की खिड़कियों से ये तमाशे देख लेता हूँ ~मुनीर नियाज़ी

कीमत दोनों की चुकानी पड़ती है

कीमत दोनों की चुकानी पड़ती है, बोलने की भी और चुप रहने की भी.!!

एक ही तो शौक है मेरा

एक ही तो शौक है मेरा तेरी आँखों मे खुद को देखना 😍😍😍

जो ये दीवार का सुराख है साज़िश का हिस्सा है

जो ये दीवार का सुराख है साज़िश का हिस्सा है मगर हम इसे अपने घर का रोशन दान कहते है.. #राहत_इंदौरी

जो दुनिया में सुनाई दे उसे कहते हैं ख़ामोशी

जो दुनिया में सुनाई दे उसे कहते हैं ख़ामोशी जो आँखों में दिखाई दे उसे तूफ़ान कहते हैं! #राहतइंदौरी

दुआ करों मैं कोई रास्ता निकाल सकूँ

दुआ करों मैं कोई रास्ता निकाल सकूँ, तुम्हे भी देख सकूँ, खुद को भी संभाल सकूँ। – निदा फाजली