दरिया अगर सूख भी जाये

कैसे भूलेगी वो मेरी बरसोंकी चाहत को…

.

.

.

.
दरिया अगर सूख भी जाये तो रेत से नमी नहीं जाती…

Like
Like Love Haha Wow Sad Angry

Leave a Reply