जो पिता के पैर को छूता है

जो #पिता के 👣 को छूता है
वो कभी #गरीब नहीं होता
जो #मां के 👣 को छूता है
वो कभी #बदनसीब नही होता
जो #भाई के 👣 को छूता है
वो कभी #गमगीन नही होता
जो #बहन के 👣 को छूता है
वो कभी #चरित्रहीन नहीं होता
जो #गुरू के 👣 को छूता है
उस जैसा कोई
#खुशनसीब नहीं होता

Like
Like Love Haha Wow Sad Angry

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *