Ishq Bhi Shayad Waisa Hi Hai

मेरे घर की छत के ऊपर एक छोटी छत है, वहाँ का रास्ता एक कच्ची सीढ़ी से हो कर जाता है, जिसे बचपन में हम चढ़ तो आसानी से जाते थे, पर उतरने में डर लगता था। यह इश्क़ भी शायद वैसा ही है।

– आयुष्मान खुराना

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *