Category: जिंदगी

चलो चुपके से एक सौदा कर लो

चलो चुपके से एक सौदा कर लो,
.
.
.
.
.
.
.
.
.
.
.
.
.
.
.
.
.
.
मेरे बन जाओ

या

मुझे अपना कर लो..

Like
Like Love Haha Wow Sad Angry

रख के हर चीज़ भूलने वाली

“रख के हर चीज़ भूलने वाली ,

.

.

.

.

.

ला तेरा दिल संभाल कर रख लूँ..!”❤️

Like
Like Love Haha Wow Sad Angry

कहते हैं वक्त सबकुछ सिखा देता है

कहते हैं वक्त सबकुछ सिखा देता है…..
.
.
.
.
.
.
.
.
.
.
.
.
.
कितना अच्छा होता अगर वक्त मुझे
अंग्रेजी सिखा देता…..
😂😂😂😂😂😂

#छोटा_रावण

Like
Like Love Haha Wow Sad Angry

पता नहीं लोग आपस में बांटकर कैसे खा लेते हैं।

पता नहीं लोग आपस में बांटकर कैसे
खा लेते हैं।
.
.
.
.
.
.
.
.
.
.
.
मुझे तो आपस में बांटने के बाद भी दूसरे
का समोसा ही ज्यादा बड़ा दिखता हैं
😂😂😂😂😂😂

Like
Like Love Haha Wow Sad Angry

पिता – बेटे के लिए हज़ारो सपने

#पिता

अर्थात एक जोड़ी वह आंख,
जिसकी पलकों में अंकुरते हैं बेटे को हर तरह से बड़ा करने के हजारों सपने..।।

Like
Like Love Haha Wow Sad Angry

पिता – लाठी

#पिता अर्थात वह लाठी,
जो छोटे पौधे को सीधा करने के लिए,
खड़ी और गड़ी रहती है, साथ-साथ…।

Like
Like Love Haha Wow Sad Angry
1

पिता अर्थात छायादार वह बड़ा वृक्ष

पिता अर्थात छायादार वह बड़ा वृक्ष,
जिसमें बचपने की गौरेया बनाती है घोसला…।

#फादर्सडे

Like
Like Love Haha Wow Sad Angry

“माँ” एक ऐसी बैंक है

“माँ” एक ऐसी बैंक है जहाँ आप हर भावना और दुख जमा कर सकते है।

#Mother #माँ #अम्मा

Like
Like Love Haha Wow Sad Angry

न बिकने का इरादा हो तो क़ीमत और बढ़ती है

सफ़र में मुश्किलें आएँ तो जुर्रत और बढ़ती है
कोई जब रास्ता रोके तो हिम्मत और बढ़ती है

मेरी कमज़ोरियों पर जब कोई तनक़ीद करता है
वो दुशमन क्यों न हो उस से मुहव्बत और बढ़ती है

अगर बिकने पे आ जाओ तो घट जाते हैं दाम अक़सर
न बिकने का इरादा हो तो क़ीमत और बढ़ती है

~ नवाज़ देवबन्दी

Like
Like Love Haha Wow Sad Angry

परख से परे है शख्सियत मेरी

परख से परे है

शख्सियत मेरी

मैं उन्ही के लिए हूँ

जो समझें कदर मेरी….…💓

Like
Like Love Haha Wow Sad Angry