सुख मेरा, काँच सा था..

सुख मेरा, काँच सा था..
ना जाने कितनों को चुभ गया

Like
Like Love Haha Wow Sad Angry

Leave a Reply