Category: अच्छी बातें

मदद

“मदद” एक ऐसी घटना है….

करो तो लोग भूल जाते हैं…

और न करो तो लोग याद रखते हैं

मौन

मौन

.

क्रोध की सर्वोत्तम चिकित्सा है।

~ स्वामी विवेकानंद

कोई व्यक्ति कितना ही महान क्यों न हो,

कोई व्यक्ति कितना ही महान क्यों न हो,आँखें मूंदकर उसके पीछे न चलिए।
यदि ईश्वर की ऐसी ही मंशा होती तो वह हर प्राणी को आँख,नाक,कान,मुँह, मस्तिष्क आदि क्यों देता..??

कानंद~स्वामी विवे

कड़वा सच

चापलूस और आलोचक मे केवल इतना अन्तर है कि चापलूस अच्छा बनकर बुरा करता है

.

.

.
और आलोचक बुरा बनकर अच्छा करता है

Whatsapp Facebook StatusJokes,Shayari,Quotes © 2021 Frontier Theme