Ashko Ka Sawan

सुनो !
तू है गर #बारिश में तर,

तो नम सा दामन इधर भी है..
वहाँ बरस रही है घटा,

तो #अश्को का #सावन इधर भी है….!!

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *