नज़रिया बदल के देख

नज़रिया बदल के देख, हर तरफ नज़राने मिलेंगे ऐ ज़िन्दगी यहाँ तेरी तकलीफों के भी दीवाने मिलेंगे .

कुछ अजीब शख्सियत है हम दोनों की

कुछ अजीब शख्सियत है हम दोनों की… न वो #Ghazal में बयाँ होती हैं न हम #Status में।

बड़ी दिल फरेब सी है तेरी ये अदा

बड़ी दिल फरेब सी है तेरी ये अदा ना चैन लेने दे, ना ही कोई सुकून दे

मेरे बारे मे कोइ राय मत बनाना गालिब

मेरे बारे मे कोइ राय मत बनाना गालिब, मेरा वक्त भी बदलेगा, और तेरी राय भी ।

ज़िन्दगी इतनी बुरी भी नहीं है

मतलबी लोगों से अगर दूर रहो तो ज़िन्दगी इतनी बुरी भी नहीं है