मैं ऐसी जरूरत बन जाऊँ तेरी

#काश . . . #मैं ऐसी जरूरत बन जाऊँ तेरी जिसकी तुम्हे #तलब रहे सारी #जिंदगी !! ❤❤❤

हम तेरे नाम को चुपके से पढ़ा करते हैं

अपनी मुट्ठी में छुपा कर किसी जुगनू की तरह हम तेरे नाम को चुपके से पढ़ा करते हैं ~अलीना इतरत

कोई याद किया करता है

ऐ हवा तू ही उसे ईद-मुबारक कहियो और कहियो कि कोई याद किया करता है #EidMubarak

दूर रहकर भी

दूर रहकर भी आपकी ख़बर रखते हैं.. हम पास आपको कुछ… इस कदर रखते हैं

डर लगता है

डर लगता है तेरी तारीफ़ करने में भी, कही ज़माना पूछ न बैठे ये तेरे कौन लगते है ..