आप और तुम में फर्क

आप और तुम में बहुत फर्क होता है आप के सामने दुःख बयान नहीं किया जा सकता पर तुम के सामने दिल खोल कर रख सकते हैं