मरने के बाद

आदमी मरने के बाद कुछ नहीं सोचता। आदमी मरने के बाद कुछ नहीं बोलता। कुछ नहीं सोचने और कुछ नहीं बोलने पर आदमी मर जाता है। – उदय प्रकाश

झाँकने की कुछ बेहतरीन जगह

झाँकने की कुछ बेहतरीन जगहों में से एक जगह .. . . . . अपना गिरेबान भी है

किसी की कोई बात बुरी लगे तो

किसी की कोई बात बुरी लगे तो, दो तरह से सोचे । यदि व्यक्ति महत्वपूर्ण हैं तो बात को भूल जाएं, . . . . बात महत्वपूर्ण हैं तो व्यक्ति को भूल जाये ।

राजा और फ़क़ीर

जाते ही शमशान में, मिट गयी सब लकीर . . . पास पास ही जल रहे थे, राजा और फ़क़ीर 🙏

Tin Chije

तीन चीज़ें कोई चुरा नहीं सकता… अक़्ल.. चरित्र… हुनर…

Achaar

अच्छी यादों का आचार डालिए और सालों साल रखिए . . . बुरी यादों की चटनी बनाइए और दो दिन में खत्म कीजिए।

संघर्ष पिता से सीखें …

संघर्ष #पिता से सीखें … संस्कार #माँ से सीखें …. बाकी सब कुछ #दुनिया सिखा देगी…!!! #FathersDay #HappyFathersDay

जीवन का खालीपन

जीवन का खालीपन जितना जल्दी भर जाए उतना अच्छा । . . नहीं तो उन खाली जगहों पर दुःख अपना घर बना लेते हैं।

अच्छे लोग हर किसी के दिल में, अपनी जगह बना लेते हैं

अगर गिलास दूध से भरा हुआ है तो, आप उसमे और दूध नहीं डाल सकते लेकिन आप उसमें शक्कर डाले तो, शक्कर अपनी जगह बना लेती है और अपना होने का अहसास दिलाती है. उसी प्रकार, अच्छे लोग हर किसी के दिल में, अपनी जगह बना लेते हैं

ख्वाहिश करना कोई गुनाह तो नहीं

हसरत पूरी ना हों तो ना सही . . . ख्वाहिश करना कोई गुनाह तो नहीं….!!