रिश्तों को कभी धोखा मत दो

रिश्तों को कभी धोखा मत दो, पसंद ना आऐ तो उसे पूर्णविराम कर दो

यूँ उम्र कटी दो अल्फ़ाज़ में

यूँ उम्र कटी दो अल्फ़ाज़ में… एक “काश” में, एक “आस” में..