मेरी तो बस एक छोटी सी ख्वाहिश है

मेरी तो बस एक छोटी सी ख्वाहिश है. की…. तुम्हारी कोई ख्वाहिश अधूरी ना रहे…..

रख लो आईने हज़ार तसल्ली के लिए

रख लो आईने हज़ार तसल्ली के लिए……!! पर सच के लिए तो,आँखें ही मिलानी प़डेगी….!!!

दिल में लोग जगह नहीं देते..

आशियाने बनें भी तो कहाँ जनाब… जमीनें महँगी हो चली हैं और दिल में लोग जगह नहीं देते..

वाकई पत्थर दिल ही होते हैं शायर

वाकई पत्थर दिल ही होते हैं शायर…!! वर्ना अपनी आह पर वाह सुनना कोई मज़ाक नहीं…!!

खुश किस्मत होते है वो

खुश किस्मत होते है वो जो तलाश बनते है किसी की, वरना पसंद तो कोई भी किसी को भी कर लेता है..

” बुरा ” हमेशा वही बनता है

” बुरा ” हमेशा वही बनता है, जो ” अच्छा ” बनके टूट चूका होता है !

सुख मेरा, काँच सा था..

सुख मेरा, काँच सा था.. ना जाने कितनों को चुभ गया

जो मुझे बस खोने से डरता हो

कोई ऐसा सख्श मुझे भी दे… ऐ मौला.. जो मुझे बस खोने से डरता हो…!!!

गरीब गर्म हौसले ओढ़कर सो जाते है

रजाईयां नहीं हैं उनके नसीब में। गरीब गर्म हौसले ओढ़कर सो जाते है।।

वो लफ्ज़ कितने नशीले होंगे

तेरे होंठो को देखा तो एक बात उठी जहन में वो लफ्ज़ कितने नशीले होंगे, जो इनसे होकर गुजरते है