हिचकियां

हिचकियाँ हमने भी न रोकी ये सोचकर..!
ज़रा देखें, कोई किस हद तक याद करता है..!!

Leave a Reply