Tag: two line shayari

मोहब्बत वो जज्बा है जिसमें हारा नहीं जाता

मोहब्बत वो जज्बा है जिसमें हारा नहीं जाता ।
दफन होकर भी आशिकी को बिसारा नहीं जाता

Like
Like Love Haha Wow Sad Angry

तारीफ़ों के पुल के नीचे

सुना है
तारीफ़ों के पुल के नीचे
मतलब की नदी बहती है ☺️

Like
Like Love Haha Wow Sad Angry
2

गुनगुनी धुप सा मजा देती है

सुनो…
तुम्हारी याद भी इस दिसम्बर में,
गुनगुनी धुप सा मजा देती है…

Like
Like Love Haha Wow Sad Angry

नवम्बर से बचे हैं तो दिसम्बर ने मार डाला

तुम्हारे बाद ग़ुज़रे हैं भला कैसे हमारे दिन,

नवम्बर से बचे हैं तो दिसम्बर ने मार डाला…

Like
Like Love Haha Wow Sad Angry

ऐ दिसम्बर तू सब कुछ ले आया है सिवाय उसके

ये सर्द हवाएँ,बिखरे पत्ते और तन्हाई,

ऐ दिसम्बर तू सब कुछ ले आया है सिवाय उसके…

Like
Like Love Haha Wow Sad Angry

कोई ऐसा कर बहाना मेरी आस टूट जाए

तेरे वादों पे कहाँ तक मेरा दिल फ़रेब खाए
कोई ऐसा कर बहाना मेरी आस टूट जाए

~फ़ना निज़ामी कानपुरी

Like
Like Love Haha Wow Sad Angry

महके-महके से रहते हैं खुश्बू से तेरी

महके-महके से रहते हैं खुश्बू से तेरी

तुम बन के इत्र बिखर गये हो मुझमें कहीं.!!

Like
Like Love Haha Wow Sad Angry

काँच सा है वजूद मेरा

काँच सा है वजूद मेरा

और तुम समझते हो कोहिनूर मुझे

Like
Like Love Haha Wow Sad Angry

जब भी खोला है ये माज़ी का दरीचा मैं ने

जब भी खोला है ये माज़ी का दरीचा मैं ने

कोई तस्वीर ख़यालों में नज़र आती है

~फ़रह इक़बाल

Like
Like Love Haha Wow Sad Angry

नफरत से तो तुफान भी हार गए मुझे बुझाने में

कोई प्यार से जरा सी फुंक मार दे तो बुझ जाऊं…..!!

नफरत से तो तुफान भी हार गए मुझे बुझाने में….
-अज्ञात

😊🙏

Like
Like Love Haha Wow Sad Angry
1