माँ से इस तरह लिपटूँ की बच्चा हो जाऊँ

मेरी ख्वाहिश है की मैं फिर से फरिश्ता हो जाऊँ, माँ से इस तरह लिपटूँ की बच्चा हो जाऊँ।

‘दर्द’ जब हद से ज्याद होता है तो

मैं ही नहीं, बड़े बड़े सूरमा भी याद करते हैं… ‘दर्द’ जब हद से ज्याद होता है तो, सब “माँ” याद करते हैं |।।

ऊपर जिसका अंत नहीं

ऊपर जिसका अंत नहीं उसे आसमां कहते हैं , जहाँ में जिसका अंत नहीं उसे माँ कहते हैं।

मै आज भी तेरा ही  बच्चा हूँ

सीधा साधा भोला भाला तेरे लिए मै ही सबसे अच्छा हूँ , कितना भी हो जाऊ बड़ा माँ मै आज भी तेरा ही बच्चा हूँ ।

कब तक मुझे अपने कन्धों पर सोने दोगी!

मैंने “माँ ” के कंधे पर सर रख कर पूछा – “माँ ” कब तक मुझे अपने कन्धों पर सोने दोगी! माँ का जवाब था – बेटा जब तक तू, मुझे अपने कंधे पर ना उठा ले तब तक

मरने के बहुत रास्ते है

मरने के बहुत रास्ते है पर जन्म लेने के लिए . . . . सिर्फ माँ….

पता नहीं क्या जादू है

पता नहीं क्या जादू है 👉🏻पागल शब्द में.. . . . . . . . . . जमाना कहे तो गुस्सा आता है, और लड़की कहे तो प्यार…😍😍🙈😜 😁😁😂 😂😂

हसबेंड को जैसे देखती हो वैसे देखो

डॉक्टर:- अपने हसबेंड को जैसे देखती हो वैसे देखो, महिला :- लेकिन क्यों ?🤔 डॉक्टर :- आँखों मे आई ड्रॉप डालना है!🤪🤓

अति-आवश्यक सूचना

अति-आवश्यक सूचना . अगर इस बार गर्मी की छुट्टीयो में आप मेरे स्टेटस में लिखा देखें कि मैं Switzerland मे हूँ , और आप मुझे कहीं आस पास देख लें , तो इसका मतलब है . कि आप भी Switzerland में ही हैं . . खामखां बात का बतंगड़ ना …

“फ़ेल” हुए विद्यार्थी निराश ना हो…

“फ़ेल” हुए विद्यार्थी निराश ना हो… आप हमें देखो… “पास’ होकर हमने क्या उखाड़ लिया..!! 😆😆😆