Category: Two Line Shayari

दुआ करों मैं कोई रास्ता निकाल सकूँ

दुआ करों मैं कोई रास्ता निकाल सकूँ,
तुम्हे भी देख सकूँ, खुद को भी संभाल सकूँ।

– निदा फाजली

Like
Like Love Haha Wow Sad Angry

मोहब्बत वो जज्बा है जिसमें हारा नहीं जाता

मोहब्बत वो जज्बा है जिसमें हारा नहीं जाता ।
दफन होकर भी आशिकी को बिसारा नहीं जाता

Like
Like Love Haha Wow Sad Angry

महोब्बत लिबास नही जो हर रोज़ बदला जाए

महोब्बत लिबास नही जो हर रोज़ बदला जाए
महोब्बत कफ़न है पहन कर उतारा नही जाता
……….!

Like
Like Love Haha Wow Sad Angry

गुनगुनी धुप सा मजा देती है

सुनो…
तुम्हारी याद भी इस दिसम्बर में,
गुनगुनी धुप सा मजा देती है…

Like
Like Love Haha Wow Sad Angry

ऐ दिसम्बर तू सब कुछ ले आया है सिवाय उसके

ये सर्द हवाएँ,बिखरे पत्ते और तन्हाई,

ऐ दिसम्बर तू सब कुछ ले आया है सिवाय उसके…

Like
Like Love Haha Wow Sad Angry

तू दिसम्बर की तरह है

ये कैसा ख्याल है तेरा,

जो मेरा हाल बदल देता है,

तू दिसम्बर की तरह है,

जो पूरा साल बदल देता है..!

Like
Like Love Haha Wow Sad Angry

बड़ी दिल फरेब सी है तेरी ये अदा

बड़ी दिल फरेब सी है तेरी ये अदा
ना चैन लेने दे, ना ही कोई सुकून दे

Like
Like Love Haha Wow Sad Angry

कोई ऐसा कर बहाना मेरी आस टूट जाए

तेरे वादों पे कहाँ तक मेरा दिल फ़रेब खाए
कोई ऐसा कर बहाना मेरी आस टूट जाए

~फ़ना निज़ामी कानपुरी

Like
Like Love Haha Wow Sad Angry

याद कर लेना मुझे तुम कोई भी जब पास न हो

याद कर लेना मुझे तुम कोई भी जब पास न हो

चले आएंगे इक आवाज़ में भले हम ख़ास न हों

Like
Like Love Haha Wow Sad Angry
1

“इश्क” आता तो दबें पाव है

“इश्क” आता तो दबें पाव है

“शोर” तो उसके “टूटने” पर होता है❤️….

Like
Like Love Haha Wow Sad Angry