इश्क़ का हिसाब

इश्क़ का तो ऐसा हिसाब है कि . . . बंद हो चुका नंबर भी डिलीट करने को दिल नहीं करता…!!

बहुत बुरा हूँ मैं

सफाईयाँ देना छोड़ दिया है मैंने, सीधी सी बात… बहुत बुरा हूँ मैं……..!!

जो हासिल ना हो सका

मिलता तो बहुत कुछ है इस ज़िन्दगी में…. बस हम गिनती उसी की करते है, जो हासिल ना हो सका….

जीना सब को नही आता…

मौत सबको आती है… अफ़सोस ! जीना सब को नही आता…

सेल्फी लेना मजबूरी हो गया है

बाहर जाकर सेल्फी लेना मजबूरी हो गया है खुश दिखना, खुश रहने से जरूरी हो गया है,

रिश्तों को कभी धोखा मत दो

रिश्तों को कभी धोखा मत दो, पसंद ना आऐ तो उसे पूर्णविराम कर दो

नफरत

बहुत पाक रिश्ते होते है नफरतों के, कपड़े अक्सर मोहब्बत में ही उतरते हैं…

मोहब्बत

मोहब्बत भी उधार कि तरह होती है …. “साहब” लोग ले तो लेते है .. मगर देना भूल जाते है.

अजीब खेल है ये मोहब्बत का

अजीब खेल है ये मोहब्बत का . . किसी को हम न मिले, कोई हमें ना मिला!

बहुत तब्दीलियाँ आई हैं मुझमे

बहुत तब्दीलियाँ आई हैं मुझमे बस तुझे याद करने की वो आदत नहीं गयी💕….!!!